Breaking News

5/recent/ticker-posts

12वीं पास छात्रा को 25 हजार और ग्रेजुएट होने पर 50,000 रुपये देगी बिहार सरकार: सीएम नीतीश

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने अगले कार्यकाल के लिए सात निश्चय पार्ट 2 की घोषणा कर दी। शुक्रवार की शाम जदयू मुख्यालय स्थिति कर्पूरी सभागार में उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि पिछले चुनाव में सात निश्चय की घोषणा की थी। जो वादा किया था उसका एक-एक काम किया। अगर मौका मिला तो सात निश्चय पार्ट -टू लाऊंगा। इसके तहत जो भी काम होगा उसका मेंटिनेंस (अनुरक्षण) करायेंगे। 

नीतीश कुमार ने कहा कि 'सक्षम बिहार, स्वाबलंबी बिहार' के लिए वे दूसरा सात निश्चय लायेंगे। इसका पहला निश्चय होगा 'युवा शक्ति बिहार की प्रगति'। इसके तहत कौशल और उद्यमिता विकास के लिए अलग विभाग बनायेंगे। आईटीआई और पालिटेक्निक इसके अधीन होंगे। सबको नौकरी मिल नहीं सकती लेकिन प्रशिक्षण की ऐसी व्यवस्था होगी कि सबको कोई न कोई काम मिल सके। हर जिले में मेगा स्किल सेंटर बनेगा। उद्यमिता विकास का काम करने की चाह रखने वाले सभी की मदद की जाएगी। 

उन्होंने कहा कि सात निश्चय-दो के तहत दूसरा निश्चय 'सशक्त महिला, सक्षम महिला' होगा। महिलाओं को उद्यमिता के लिए विशेष सुविधा मिलेगी। उद्यमिता के लिए महिलाओं को 10 लाख की सहायता मिलेगी। 5 लाख लोन व 5 लाख का अनुदान। इंटर पास अविवाहित बेटियों को 10 की जगह 25 हजार और स्नातक पास बेटियों को 25 हजार की जगह 50 हजार रुपए मिलेंगी। क्षेत्रीय प्रशासन में महिलाओं की भागीदारी बढ़ेगी।

 तीसरा निश्चय 'हर खेत में सिंचाई के लिए पानी' होगा। 

चौथा निश्चय 'स्वच्छ गांव समृद्ध गांव' के तहत हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगवायेंगे। ठोस व तरल अवशिष्ठ के प्रबंधन की व्यवस्था करेंगे। पूर्व के सात निश्चयों के मेंटिनेंस की व्यवस्था और पशु एवं मत्स्य संसाधनों के विकास करेंगे।

पांचवां निश्चय होगा-'स्वच्छ शहर, विकसित शहर'। इसके तहत वृद्धजनों के लिए राज्य के हर शहर में आश्रय स्थल बनवायेंगे। शहरी गरीबों हेतु बहुमंजिला आवास का निर्माण होगा। ये इमारतें नगर निगम क्षेत्रों के अलावा सभी नगर निकायों और नगर पंचायतों में भी बनेंगे। राज्यभर के सभी घाटों पर 'मोक्षधाम' बनवायेंगे, जहां विद्युत शवदाहगृह की व्यवस्था होगी। सभी शहरों में स्टार्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम विकसित होगा। 

नीतीश कुमार ने कहा कि उनका छठा निश्चय 'सुलभ सम्पर्कता' होगा। हर गांव को जोड़ते हुए बेहतर सम्पर्कता की सुविधा दी जाएगी ताकि किसी को कहीं भी जाने में कोई परेशानी नहीं हो। इसके साथ ही जितने शहरी इलाके हैं, जहां आबादी का घनत्व अधिक है, वहां बाईपास का निर्माण करायेंगे। फ्लाईओवर, एलिवेटेड सड़कों का निर्माण होगा।

सातवां निश्चय होगा ' सबके लिए सवास्थ्य सुविधा'। इसके तहत लोगों के साथ-साथ पशुओं के लिए भी इलाज की और बेहतर व्यवस्था बहाल होगी। 

प्रेस कांफ्रेंस में बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय चौधरी, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, विधान पार्षद देवेश चन्द्र ठाकुर भी मौजूद रहे।


Post a Comment

0 Comments